डीएलएफ को 100 करोड़ जमा करने की छूट – नवभारत टाइम्स – 28-Nov-2014

December 2, 2014 - Uncategorized

सुप्रीम कोर्ट ने रियल इस्टेट क्षेत्र की प्रमुख कंपनी डीएलएफ को अनुचित व्यावसायिक व्यवहार के जुर्म में 630 करोड़ रुपये के जुर्माने की राशि में से 100 करोड़ रुपये जमा कराने की गुरुवार को अनुमति दे दी। इस कंपनी पर यह जुर्माना प्रतिस्पर्धा आयोग ने लगाया था। न्यायमूर्ति ए.आर. दवे की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने डीएलएफ के वकील के अनुरोध के बाद यह अनुमति दी। वकील ने न्यायालय में कहा कि हम आज रजिस्ट्री में 100 करोड़ रुपये और जमा करा देंगे।

इससे पहले, कंपनी ने 27 अगस्त के आदेश के अनुसार 3 सप्ताह के भीतर 50 करोड़ रुपये जमा कराए थे। कोर्ट ने कहा था कि रजिस्ट्री इस राशि को अपने हिसाब से किसी भी नैशनल बैंक में निवेश करने के लिए स्वतंत्र होगी। डीएलएफ ने सुप्रीम कोर्ट में उसकी अपील पर सुनवाई के लिए 26 नवंबर की समय सीमा के भीतर 630 करोड़ रुपये की धनराशि जमा करने में असमर्थता व्यक्त की थी। इस कंपनी ने निर्देशों पर अमल के लिए छह महीने का समय देने का अनुरोध किया था, लेकिन कोर्ट ने उसे 3 सप्ताह के भीतर 50 करोड़ रुपये और फिर अगले 3 महीने में 27 नवंबर से पहले 580 करोड़ रुपये जमा करने का निर्देश दिया था।

डीएलएफ की अर्जी पर अब शुक्रवार को विचार किया जाएगा। डीएलएफ ने बकाया राशि के एवज में जमीन गिरवी रखने की पेशकश करते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री में धनराशि जमा कराए जाने तक यह जमीन गिरवी रहेगी। प्रतिस्पर्धा आयोग के 19 मई के फैसले के खिलाफ डीएलएफ ने शीर्ष अदालत में अपील दायर कर रखी है। प्रतिस्पर्धा आयोग द्वारा कंपनी पर 630 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाने के आदेश को प्रतिस्पर्धा अपील न्यायाधिकरण ने बरकरार रखा था।

 

Navbharat Times

Leave a Reply